Monday, August 31, 2015

Computer Vocabulary (कम्प्यूटर शब्दावली) in Hindi

Computer Vocabulary (कम्प्यूटर शब्दावली) in Hindi
Part - 1

Data -  कम्प्यूटर मे Save सुचनाओं के समुह को Computer की भाषा मे Data कहते है |

Device - वे सभी यन्त्र जो Computer के साथ Connect होते है , Device कहलाते है | जैसे माउस , keyboard etc.

Input -  माउस और Keyboard की सहायता से Computer मे Data डालने की process को Input कहते है |

Output -  Data पर process करने के बाद जो परिणाम प्राप्त होता है ,Output काहलता है

Saturday, August 22, 2015

Computer shortcut keys in Hindi

ctrl+A      (Select all )
ctrl+S      (Save file)
ctrl+Z      (Undo )
ctrl+Y      (Redo)
ctrl+X      (Cut selacted text)
ctrl+C      (Copy  selacted text)
ctrl+V      (Paste salected text)
ctrl+B      (Bold Salected Text)
ctrl+N      (New file select)
ctrl+R      (Go to Run)
ctrl+F      (Open Find Box)
ctrl+I       (Italic Salected text)
ctrl+K      (Insert Link)
ctrl+ U     (Underline Salected text)
ctrl+P      (Open print window)
ctrl+Delete   (Delete salacted)
ctrl+ ;       (Inter the current date)
ctrl+1      (Open the format cells window)

PREM NAAM HAI MERA           PREM RAI


मैं  प्रेम कुमार राय , जिला - देवरिया , गोरखपुर से belong करता हू | मुझे हमेशा कुछ राइटिंग,रीडिंग की आदत रही है , जैसे - story राइटिंग, कविता राइटिंग , स्टोरी रीडिंग , कविता रीडिंग , motivational story रीडिंग , टेक्निकल knowladge अर्जित करना , तथा Gyan- Vigyan की बातें जानना आदि |
मैं दूसरो की Help करने में और ज्यादा खुशी महसूस करता हू |
इस Blog का निर्माण कैसे हुआ ? एक दिन मैं google पर online business की जानकारी ले रहा था तभी मुझे blogging के बारे मे पता चला जो मेरे लिये एक बहुत बडी जानकारी सिद्ध हुई क्योकि blogging के मध्यम से मै अब दूसरो की Help आसानी से कर सकता हू |
मैं इस ब्लोग के मध्यम से Gyan- Vigyan की बातें , Motivational stories, Yoga Tips, Computer knowladge , टेक्निकल टिप्स आदि आपसे SHARE करून्गा , जो आप के Life मे Improve लायेगा |
Contact-
email- premsight@gmail.com

How to work our mind in Hindi (हमारा माइंड किस प्रकार कार्य करता है ?)


कभी - कभी हम नयी वस्तुयें या पुस्तकें घर मे रखने के बाद  उन्हे खोज नही पते | हमारे द्वारा रखी वस्तु हमे ध्यान क्यो नही आती ?
क्योकि हमारे मस्तिष्क का एक भाग ऐसी सुचनाओ  तथा योजनओं को इकठ्ठा करता है , जो स्मृती का अस्तित्व बनाये रखने के लिये  आवश्यक है | अगर हम अपने द्वारा रखी वस्तु का मस्तिष्क को सही सूचना नही देते , जैसे उस वस्तु का प्रतिबिंब , उस वस्तु के रखे जाने की जगह आदि | तब तक हम उस वस्तु को सही से याद नही रख सकते |
हमारे मस्तिष्क का एक most part चुम्बक की तरह कार्य करता है , जो Information तथा अवसरों को आकर्षित करता है | इसी के कारण कोई सूचना , अवसर या वस्तुओ का हमे सही knowladge होता है |